एंटरोमाइसेटिन कैप्सूल (Enteromycetin Capsule) क्या है? एंटीबायोटिक दवा के बारे में फुल जानकारी

Last Updated on 12 months by websitehindi

Enteromycetin Capsule क्या है? एंटरोमाइसेटिन कैप्सूल दवा के बारे में फुल जानकारी हिंदीमें जानने के लिए वेबसाइटहिंदी का पोस्ट पढ़िए क्यूंकि इस पोस्ट में एनटेरोमीसैटिन एंटीबायोटिक कैप्सूल के बारे में बताया गया है |

जब कोई व्यक्ति को शरीरिक समस्या होती है तो वह कोई न कोई एंटीबायोटिक दवाइयां लेता है ताकि वायरल इन्फेक्शन को ठीक किया जा सके | यह तभी संभव है जब बैक्टीरिया से एंटीबायोटिक लड़ता है यानि की बैक्टीरिया मरने के लिए एंटीबायोटिक पावरफुल होना चाहिए |

enteromycetin-capsule-kya-hai-hindi
enteromycetin capsule

एंटरोमाइसेटिन कैप्सूल क्या है?

Enteromycetin Capsule एक प्रकार का एंटीबायोटिक दवा है | जिसका इस्तेमाल कुछ खास किस्म के बैक्टीरिया से लड़ने के लिए किया जाता है | एंटरोमाइसेटिन कैप्सूल का इस्तेमाल जीवाणु संक्रमण के उपचार में भी किया जाता है | (इसे भी पढ़ें कोरोनावायरस को फैलने से कैसे रोकें?)

एंटरोमाइसेटिन 500 कैप्सूल को रोगी के स्थिति के अनुसार डोज बनाकर देना पड़ता है | अगर आप इस दवा को बिच में बंद कर देते है तो पहले वाला  इन्फेक्शन फिर से हो सकता है | इसलिए Enteromycetin 500 Capsule को डॉक्टर के निगरानी में लेना चाहिए |

एनटेरोमीसैटिन कैप्सूल का यूज कब करें?

एनटेरोमीसैटिन कैप्सूल का इस्तेमाल बहुत सारे बिमारियों में किया जाता है परन्तु यूज करने से पहले रोगी के स्थिति, लक्षण देखना आवश्यक होता है |

टाइफाइड बुखार

हैज़ा

आँख आना (नेत्र संक्रमण)

कान में संक्रमण

जीवाणु संबंधी संक्रमण

आंत्र ज्वर

स्किन इन्फेक्शन

Enteromycetin 500mg Capsule के साइड इफ़ेक्ट

एंटरोमाइसेटिन 500 कैप्सूल लेने के बाद कुछ साइड इफ़ेक्ट हो सकते है | लेकिन यह रोगी के हालात पर निर्भर करता है | इस दवा को खाने के बाद कभी काल  दुष्प्रभाव हो सकते है परन्तु इस तरह का बहुत कम ही समस्या होती है | अगर आपको भी इस तरह की साइड इफ़ेक्ट नजर आये तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें |  (इसे भी पढ़ें जोड़ों में दर्द की दवा कारण, लक्षण और उपचार हिंदी में !)

स्वाद बदलना

सिरदर्द

उल्टी

दस्त होना

मिचली आना

चकता

Enteromycetin 500 Capsule कैसे काम करता है?

लक्षणों के अनुसार शरीर में होने वाले इन्फेक्शन को Enteromycetin Capsule ठीक करता है | जब डॉक्टर किसी रोगी को एनटेरोमीसैटिन कैप्सूल्स देता है तो जिवाणुओं की वृद्धि रुक जाती है |

जैसा की हम जानते है बैक्टीरिया हमारे शरीर के प्रोटीन को संश्लेषण करता है जिसके बाद एंटरोमाइसेटिन कैप्सूल का सेवन करने से बैक्टीरिया का वृद्धि रुक जाती है और रोगी ठीक होने लगता है | (इसे भी पढ़ें अपामार्ग (Apamarg) क्या है? फायदा और नुकसान |)

Enteromycetin Capsuls लेने से सावधान

रोगी को कुछ ऐसी समस्याएं होती है जिनमें Entromycetin Capsuls लेने से परहेज करना चाहिए | अगर आप डॉक्टर से पूछे बिना एनटेरोमीसैटिन कैप्सूल्स का सेवन करते है तो अन्य बहुत सारे समस्या से ग्रस्त हो सकते है | एनटेरोमीसैटिन दवा को इन समस्याओं में नहीं लेना चाहिए |

आंतों में सूजन होना |

किसी चीज से एलर्जी होना |

गर्भावस्था के समय

गुर्दे से संबंधित समस्या

नर्सिंग

लिवर की समस्या

अतिसंवेदनशीलता

एंटरोमाइसेटिन कैप्ल्ट के फायदे Benefits Of Enteromycetin Caplt

एंटरोमाइसेटिन 500 कैप्ल्ट का इस्तेमाल करने से इन्फेक्शन बनाने वाली बैक्टीरिया कम होती है | क्यूंकि एंटरोमाइसेटिन कैप्ल्ट  एक एंटीबायोटिक दवा है | इसके यूज से शरीर में होनेवाली बिमारियों त्वचा, बुखार, आंख, कान, गले में होनेवाली संक्रमण से ठीक हो सकते है |

लेकिन एंटीबायोटिक दवा, एनटेरोमीसैटिन का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर को बताये या डॉक्टर के सलाह पर दवाइयाँ ले सकते है |

Enteromycetin Capsule लेते समय सुरक्षा के लिए सुझाव

एंटरोमाइसेटिन दवा को लेने से पहले रोगी को पहले से होनेवाला समस्या को जानना बहुत ही आवश्यक है | इससे रोगी को सुरक्षित कर सकते है | (इसे भी पढ़ें अपेंडिक्स क्या है ? Appendix होने पर क्या करें लक्षण और उपचार हिंसी में |)

(1.) गर्भवस्था महिलाओं को एनटेरोमीसैटिन कैप्ल्ट का सेवन से बचना चाहिए | इस तरह के दवा लेने से पहले डॉक्टर से सलाह ले |

(2.) स्तनपान कराने वाली महिलाओं को एनटेरोमीसैटिन एंटीबायोटिक कैप्सूल देना असुरक्षित हो सकती है क्यूंकि ये दवाइयां माँ के दूध में मिश्रित हो सकता है जिससे बच्चे को समस्या हो सकती है | स्तनपान कराने वाली महिलाओं को डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए |

(3.) अगर आप गुर्दे की बीमारी से परेशान है तो ऐसी स्थिति में एनटेरोमीसैटिन का इस्तेमाल असुरक्षित हो सकता है | गुर्दे के रोगी को किसी भी समस्या में डॉक्टर को पुरानी समस्या बता देनी चाहिए |

(4.) लिवर की समस्या होने पर डॉक्टर को बताये |

(5.) इस एंटीबायोटिक दवा को लेते समय शराब का सेवन न करें क्यूंकि यह आपको नुकसान पहुंचा सकता है | शराब का सेवन करने से छाती में दर्द, मिचली जैसी समस्या हो सकती है |

 

निष्कर्ष (Conclusion)

इस पोस्ट में Enteromycetin Capsule Kya Hai, एनटेरोमीसैटिन एंटीबायोटिक कैप्सूल के बारे में बताया गया है | आर्टिकल में यह भी बतया गया है की एंटरोमाइसेटिन कैप्ल्ट के फायदे क्या है |

Leave a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top