websitehindi channel

वरुण क्या होता है? Varuna Plant के फायदे और नुकसान

Last Updated on 6 months by websitehindi

वरुण क्या होता है? Varuna Plant के फायदे और नुकसान Hindi Me जानने के लिए वेबसाइटहिंदी का पूरा पोस्ट पढ़िए इस पोस्ट में इस जड़ी-बुट्टी से शरीर के बिमारियों को ठीक करने की बात कहा कही गयी है |

वरुण का वैज्ञानिक नाम क्राटीवा नरवाला है तथा इसे वानस्पतिक में Syn-Crataeva Religiosa नाम से जाना जाता है | जैसा की आप जानते है आयुर्वेदिक औषधि का गुण चिकित्सा प्रणालियों में तेजी से फायदेमंद है |

varuna-plant
varuna

किसी भी बीमारी को जड़ से ख़त्म करने के लिए लोग जड़ी-बुट्टी का सहारा ले रहें है | वानस्पतिक दवाइयों का यूज करने से शरीर पर कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होता है | फिर भी वैध के सलाह पर ही लेना चाहिए |

वरुण क्या होता है? – What is Varuna

वरुण एक औषधि है जिसका उपयोग स्वास्थ्य लाभ में किया जाता है | वरुण का वानस्पतिक नाम Syn-Crataeva Religiosa तथा अन्य संस्कृत नाम रोध वृक्ष है | इसका सेवन करने से मूत्र संबंधी संक्रमण, गुर्दे में पथरी जैसी समस्याएं ठीक होता है |

 

वरुण के फायदे – Benefits of Varuna

वरुण-क्या -होता -है

(1.) मूत्र मार्ग की पथरी तथा किडनी के पथरी में वरुण का लाभ

जैसा की आप जानते है आज के समय में लोगो के पास स्वास्थ्य को देखभाल करने की समय नहीं है | लोग पेट चलाने व शोक पूरा करने के लिए स्वास्थ्य पर भी ध्यान नहीं दे रहें है | ऐसे में किडनी में पथरी और मूत्र मार्ग में पथरी होने पर वरुण पौधे के छाल का इस्तेमाल कर सकते है | (इसे भी पढ़ें बहेड़ा के फायदे और नुकसान हिन्दीमें !)

(2.) वरुण (Varuna) का इस्तेमाल फोड़े फुंसियों में

फोड़े-फुंसियों से परेशान व्यक्ति को आयुर्वेद का मदद जरुर लेना चाहिए | अगर किसी व्यक्ति को फोड़े फुंसी हुआ है तो प्रभावित त्वचा पर वरुण का इस्तेमाल करना चाहिए |

सबसे पहले वरुण के छाल का पाउडर, नारियल तेल में मिलकर प्रभावित त्वचा पर लगाना है | ऐसा करने से बहुत जल्दी आराम मिलता है |

(3.) डायबिटीज में वरुण का लाभ

ब्लड शुगर लेवल के अतरिक्त स्त्राव को कम करने के लिए वरुण आपके लिए फायदे दे सकता है क्यूंकि इसके छाल में एंटी डायबिटिक गुण मौजूद होतें है | (इसे भी पढ़ें 10 पक्षी जो कभी उड़ नहीं सकते |)

(4.) भूख न लगने पर

व्यक्ति को पाचन तंत्र से संबंधी समस्या होने पर भूख न लगने की सिकायत बना रहता है | सामने स्वादिस्ट भोजन होने के बाद भी लोग भोजन करना पसंद नहीं करते है | ऐसे में वरुण के छाल का पाउडर शहद में मिलकर सेवन करें तो लाभ मिलेगा |

(5.) आंखों के लिए फायदेमंद है वरुण

अगर व्यक्ति को आंखों से संबन्धी बीमारी है तो वरुण के छाल पीसकर आंखों के बाह्य-भाग पर लगाना है | लेप की तरह लगाने आंखों के बीमारी में लाभ मिल सकता है | (इसे भी पढ़ें शुगर क्या है? (Sugar In Hindi) और इससे छुटकारा कैसे पाये?)

(6.) मूत्र मार्ग में संक्रमण को रोकने के लिए जरुरी है वरुण

मूत्र मार्ग के बाहरी भाग में जलन या संक्रमण होने पर घबराएं नहीं | जलन और संक्रमण से राहत पाने के लिए वरुण का छाल से निकला पाउडर और शहद मिलकर सेवन करे तो लाभ मिलेगा |

Conclusion

वेबसाइटहिंदी के पोस्ट में वरुण क्या होता है? तथा इसके मुख्य फायदे के बारे में जानकारियां शेयर किया गया है | अगर आप इन सभी समस्याओं से परेशान है तो Varuna Plant का इस्तेमाल कर सकते  है | लेकिन इस्तेमाल करने से पहले नजदीकी चिकित्सक से परामर्श करें | किसी भी दवाई या जड़ी-बुट्टी का सेवन स्थिति और रोगी के बीमारी के अनुसार करना चाहिए |

3 thoughts on “वरुण क्या होता है? Varuna Plant के फायदे और नुकसान”

  1. Vinod puri goswami

    हमारी फेसबुक आईडी अनलॉक कर दो विनोद पुरी गोस्वामी

    1. Vinod puri goswami

      अभी हम गलत कुछ भी नहीं डालेंगे अनलॉक कर दो

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top