जानिए 2021 में नीम के पत्तियां खाने के फायदे हिंदी में |

आज के लेख में हम जानेंगे खाली पेट नीम के पत्तियाँ खाने के इम्पोर्टेन्ट फायदे (Neem Khane Ke Fayde Hindi Me) नीम का उपयोग क्यों करें? जाननें के लिए नीम के हर लाभ को जानना होगा | (Neem Tablets Benefits In Hindi)

नीम का सेवन करने से शरीर से अनेक बीमारियाँ गायब होती है | अगर आप हर रोज 4-5-10 नीम के पत्तियां खाते है तो खांसी, बुखार तथा अन्य संक्रमण रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ेगी | आइये डिटेल्स में नीम पत्ती (Neem Ke Patte) के गुण से मिलाने वाला लाभ के बारे में जानते हैं |

Neem Khane Ke Fayde Hindi Me copy
Neem Tree

जानिए नीम पत्तियां खाने के फायदे हिंदी में – Neem Khane Ke Fayde Hindi Me

नीम के पत्ती में कई औषधीय गुण पाये जाते है | भारत में प्राचीन ज़माने से लोग नीम के पत्तियां का उपयोग करते आ रहें है | पहले के समय में एलोपैथी और होमियोपैथी दवा का विकास नहीं हुआ था तब गावों में लोग नीमिया के छिलके और पत्तियां इस्तेमाल करते थे | (इसे भी पढ़ें घाव, चोट तथा जलने पर ठीक कैसे करें?)

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए

नीम (Neem Tree) में एंटीवायरल, एंटीऑक्सिडेंट और एंटीमाइक्रोबियल गुण भरपूर मात्रा में पाया जाता है | अगर आप हर रोज नीम के पत्तियां चबाते है तो शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगा | इससे आपका शरीर में इम्यूनिटी पॉवर बढेगा | जिसके आपका शरीर हर रोग से लड़ने के लिए तैयार है |

नीम के पत्तियां (Azadirachta Indica) से ह्रदय रोग, कैंसर, फ्लू जैसे बीमारी पास आने से डरते है | यह कही हद तक इन बिमारियों (बैक्टीरिया) से लड़ने की क्षमता बढ़ता है | (इसे भी पढ़ें जोड़ों में दर्द की दवा कारण, लक्षण और उपचार हिंदी में !)

मुंह और दन्त सफाई

आज के समय में मुँह और दांत साफ़ करने के लिए बाजार में अनेक उत्पाद मौजूद है पर उन केमिकल वाले उत्पादों से अनेक नुकसान उठाना पड़ता है | लेकिन हम यहाँ पर ऐसे प्राकृतिक औषधि नीम के बारे में बता रहें है |

पहले के समय में अधिकतर लोग टूथब्रश के रूप में नीम के दातुन का इस्तेमाल करते थे पर जैसे जैसे विकास होता गया वैसे ही नीम से लोग दूर भागने लगे | अगर आप हर दीन नीम के दातुन से दांत साफ़ करते है तो दांत मोती की तरह चमकीला होने लगेगा |

डायबिटीज में लाभ

अगर आप डायबिटीज में इन्सुलिन कम करना चाहते है तो हर दिन 5-10 पत्तियां चबाने की कोशिश करें | अगर आप नीम के पत्ती चबाना नहीं चाहते है तो रस निकालकर निगलने की कोशिश करें | (इसे भी पढ़ें Keyboard Function Keys क्या है? कंप्यूटर कीबोर्ड फंक्शन कीज के बारे में पूर्ण जानकारियां हिंदी में !)

पेट की बीमारी से छुटकारा

कब्ज, अल्सर, ममोड़ और आंत में सूजन रहने पर हर रोज 3-5 पत्तियां चबाकर खाएं | इससे पेट के बिमारियों में फायदा मिलेगा |

पेट के गर्मी से होनेवाले रोगों से छुटकारा

जैसा की आप जानते है पेट में गर्मी होने से गले, मुंह, जीभ पर छाले निकाल आतें है | छाले निकालने से पानी पीने में, भोजन करने में और बोलने में परेशानी होती है | इससे बचने के लिए नीम के पत्ती बहुत उपयोगी होता है | (इसे भी पढ़ें पढ़ते समय नींद से बचने के उपाय)

खुजली, फुंसी, त्वचा संक्रमण का ईलाज

खुजली और फुंसी बड़ी बीमारी नहीं है पर जिसको होती है वह हर रोग से भी ज्यादा परेशान रहता है | ये छोटी-छोटी त्वचा संबंधी बीमारी आपको पेरेशन कर देती  है | खुजलाये बिना न तो आप स्थिर बैठ सकतें है और बहुत सारे लोगो के बिच जाने में भी शर्म महसूस होती है | (इसे भी पढ़ें ईमेल से 15Gb तक फाइल साइज़ को कैसे भेजें ?)

त्वचा संबंधी खुजली और फुंसी जैसी समस्या होने पर नीम के पत्तियों को पानी में उबालें | जब पानी गुनगुना हो जाये तो नहाने में नीम के पानी का इस्तेमाल करें | ऐसा करने से त्वचा से हर बीमारी में रहत मिलेगी |

खून की सफाई के लिए नीम है जरुरी

जैसा की आप जानते है नीम में ऐंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण पाये जाते है | हर रोज खाली पेट नीम के पत्तियां (Neem Khane Ke Fayde Hindi Me) खाने से खून की सफाई होती है | खून साफ होने से शरीर में हर बीमारी के साथ त्वचा संबंधी रोग और बालों की समस्या से छुटकारा मिलेगा | (इसे भी पढ़ें जानिए टॉप 5 बेस्ट फोटो सजाने वाला एप्प !)

घाव ठीक करना

जरुरी नहीं की भारत के हर युवा घाव के लिए हॉस्पिटल जाने के लिए सक्षम है | गाँव में देखा गया है घाव होने पर नीम के पत्तियों का पेस्ट बनाकर घाव के ऊपर लगाया जाता है | हर दिन यह लेप लगाने से बड़े-से बड़ा घाव बहना बंद हो जाता है | (इसे भी पढ़ें व्हाट्सएप से पैसे कैसे कमाए?)

खाली पेट नीम के पत्तियां खाने से नुकसान Neem Ki Patti Khane Ke Nuksan

जैसा की आप जानते है कड़वा चीज हर जगह फायदेमंद नहीं होता है | नीम के पत्तियाँ खाने से फायदा होता है पर गर्भवती महिला को नहीं देना चाहिए |

बच्चो को जन्म से कम से कम 6 महीने तक माँ का दूध बिना अनिवार्य माना जाता है | अगर आपका बच्चा दूध पिता है तो ज्यादा नीम के पत्ती खाने से बचना चाहिए |

किसी भी जड़ी बुट्टी अति हानिकारक होता है | इसीलिए नीम के पत्तियां का सेवन सालो भर लगातार नहीं करना चाहिए | अगर आप यूज कर रहें है तो 15 दिन के अन्तराल पर 15 दिनों के लिए करें | (इसे भी पढ़ें पेट की आंतों की गन्दगी साफ कैसे करें?)

Conclution

इस लेख में खाली पेट नीम के पत्तियाँ खाने के इम्पोर्टेन्ट फायदे (Neem Khane Ke Fayde Hindi Me) बताया गया है | मानव शरीर को कृत्रिम चीजे इस्तेमाल करने के अलावां प्राकृतिक पर भी ध्यान देना चाहिए | इसीलिए इस पोस्ट में नीम के पत्ती खाने का फायदा और नुकसान डिटेल्स में बताया गया है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top