websitehindi channel

पेट की आँतों की गंदगी साफ क्यों करें? कारण लक्षण और घरेलु तरीका |

Last Updated on 9 months by websitehindi

आँतों की गंदगी साफ क्यों करें? (How To Clean The Intestine) इस सवाल का जबाब हर युवा को जानना चाहिए | पेट की आंतों को साफ करने की दवा जानना हर युवा/युवती का कर्तव्य होता है | इस लेख में जानेंगे आंत साफ कैसे करें? हिंदी में (Aant Saaf Kaise Kare)

पेट की सफाई करने का मतलब पेट के बीमारी से दूर रहना | अगर आप पेट के अन्दर आंतों को स्वास्थ्य रखते है तो आपका स्वास्थ्य 99% ठीक रहेगा |  पेट में गंदगी रहने से पूरी आंत गंदे पदार्थो के चपेट में रहता है इसके लिए आँतों में कमजोरी हो सकती है | मानव शरीर में हर रोज हवा, पानी, भोजन से अनेक प्रकार के दूषित पदार्थ प्रवेश कर रहा है जिससे कई प्रकार के रोग उत्पन्न हो सकतें है |

Aant Saaf Kaise Kare hindi
Aant Saaf Kaise Kare

आँतों की कमजोरी का इलाज (Aanto Ki Kamjori Ka Ilaj) करने के लिए पेट के विषैले पदार्थों को घरेलु ईलाज या पेट की आंतों को साफ करने की दवा (एलोपैथी) का उपयोग करना चाहिए |

पेट की आँतों की गंदगी साफ क्यों करें? Aant Saaf Kaise Kare Hindi

जैसा की सभी जानते है मानव शरीर में दो प्रकार की बड़ी आंत (Large Intestine) और छोटी आंत (Small Intestine) होती हैं | दोनों आंत का कार्य अलग -अलग होती है | छोटी आंत शरीर में प्रोसेसिंग का काम करती है जिससे 90 प्रतिशत कार्य इसी आंत से होती है | (इसे भी पढ़ें गला साफ करने के घरेलु उपाय | खराब गले से सुरीली आवाज कैसे निकाले?)

शरीर में भोजन करने पर विटामिन को अलग करना बड़ी आंत का ही काम है | भोजन से पानी अलग करके मल अलग बड़ी आंत ही करती है जिसके बाद कुछ मल अच्छे से नहीं निकालता है जिसके वजह से कब्ज, बार- बार पेट में ऐठन, अपच, कैंसर, छाले हो सकती है | कुछ व्यक्ति घंटों सौच के लिए बैठे रहते है फिर भी साफ पैखाना नहीं होती है इसीलिए उन्हें बार-बार सौचालय जाना पड़ता है | इसके बाद पेट की सफाई नहीं करते है तो अनेक रोगों का जन्मदाता खुद होंगे |

आंतों को साफ करने का सही तरीका Aanton Ko Saaf Karne Ka Sahi Trika

आँतों को साफ करने के लिए खानपान पर ध्यान देना अति आवश्यक होता है इसके साथ-साथ घरेलु नुस्खे और पेट की सफाई के लिए दवा का इस्तेमाल कर सकतें है | (इसे भी पढ़ें मोबाइल स्क्रीन को कंप्यूटर की तरह यूज कैसे करें ?)

हरी सब्जियां: आज के लाइफ स्टाइल में लोग अन्य फैशन पर खर्च करते है पर खाने में हरी सब्जियां शामिल नहीं कर पाते | पेट के पाचन क्रिया को सुधारने के लिए हरी सब्जियां खाने में शामिल करें | हरी सब्जियां में खनिज और एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है जिससे बिषाक्त पदार्थ शरीर से दूर रहता है |

दूध: मानव शरीर के लिए दूध बहुत फायदेमंद है | दूध में कैलोरी, फैट और कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है | दूध ऐसा पेय पदार्थ है जिसको किसी भी समय पी सकते है | डाइट के साथ कम से कम रोज दूध पिने से आँतों की सफाई होती है |

फाइबर और नैचुरल क्लीन्जिंग: आंतो से गन्दगी साफ़ करने के लिए फाइबर और नैचुरल क्लीन्जिंग युक्त पदार्थो को खाने में शामिल करना चाहिए ये आपके आँतों को आसानी से साफ़ करने में मदद करता हैं | इसके लिए संतरा, सेब, एलोवेरा और खीरा सलाद की तरह खाने से फायदा मिलेगा | (इसे भी पढ़ें पेट की चर्बी कैसे घटायें? घरेलु उपाय हिंदी में |)

शरीरिक कार्य: आज के समय में लोग आलसी होतें जा रहें है जिसके वजह से भयंकर बीमारी हो सकती है | पेट की सफाई करने के लिए कार्य करना अत्यंत आवश्यक है | आगर ऑफिस में बैठकर काम करते है तो सुबह शाम व्यायाम (टहलना, कूदना , दौड़ना, जम्प करना, कपाल भाति इत्यादि) करने की कोशिश करें |

दलिया खाएं: खाने में दलिया का सेवन करना अत्यंत आवश्यक है | दलिया में अधिक मात्रा में फाइबर मौजूद रहता है | आप अपने जरुरत के अनुसार अलग-अलग रेसिपी बनाकर उपयोग कर सकतें है |

गुनगुना पानी: कभी भी सौच करने से पहले 2-4 गिलास गुनगुना पानी पिए | इससे मल साफ निकलेगा | हम यह भी कह सकतें है की मानव को हर रोज कम से कम 5 लीटर पानी पीना चाहिए | (इसे भी पढ़ें कान की सफाई करने का सही तरीका )

पाउडर: भोजन पचने व पेट साफ़ करने के लिए अनेक पाउडर और दवाइयाँ मौजूद है | डॉक्टर के कहे अनुसार सप्लीमेंट का इस्तेमाल करें |

नुकसानदायक पदार्थो से कैसे बचें?

भोजन उतना ही खाए जितना आपके लिए जरुरी है | स्वादिष्ट भोजन देखकर उतना खाना खाने की कोशश न करें जिससे पेट परेशानी में पड़े |

अधिक मात्रा में काफी, शराब, सोडा का सेवन करने से बचना चाहिए | कुछ लोग स्मोकिंग का उतना सेवन कर लेते है जिसके बाद भोजन बहुत कम मात्रा में करते है |

अगर आपको कब्ज अधिक बनता है तो वैसी चीजो से परहेज करें जिससे आप परेशान रहतें है | (इसे भी पढ़ें ऑनलाइन होटल बुकिंग करने का तरीका)

इस लेख में आंत साफ कैसे करें? (Aant Saaf Kaise Kare In Hindi) और कारण, लक्षण और घरेलु नुस्खे के बारे में बताया गया है | पोस्ट में यह भी बताया गया है की खानपान और व्यायाम (एक्सरसाइज) पर ध्यान देने से आँतों में कभी गन्दगी नहीं फैलेगा |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top