एंड्राइड फोन और आई.फोन के बिच अंतर – पूरा जानकारी हिंदी में !

Difference between Android Phone Vs Iphone

इस पोस्ट में एंड्राइड मोबाइल और आई.फोन के बिच अंतर बताया गया है |  जब यूजर के दिमाग में Smartphone लेने का सवाल आता है तो वो सबसे अधिक Confused रहतें है |

स्मार्टफोन खरीदने वाले व्यक्ति के मन में हमेशा बढियां फोन लेने का विचार उत्पन्न होता है | वे हमेशा कम कीमत में अच्छा से अच्छा फोन लेने का विचार करते है . क्युंकी Smartphone एक ऐसा डिवाइस है जिसके अन्दर नए जनरेशन का संभी काम किया जा सकता है | मोबाइल कंपनियां हर समय एक से बढ़कर एक नये फीचर फोन में लाते रहतें है | इसीलिए यूजर जानना चाहते है की Android Phone और Iphone में सबसे बेहतर कौन है ?

android phone vs iphone
android phone vs iphone

Android Phone Vs Iphone दोनों में सबसे बेहतर कौन है ?

बाजार में तीन प्रकार के #Operating System पर काम करने वाला Smartphone (Android, IOS, Windows) मिलता है लेकिन विंडोज फोन को बहुत कम लोग खरीदते है | हम यहाँ पर मात्र दो ऑपरेटिंग सिस्टम पर वर्क करने वाला स्मार्टफोन के बारे में बात करेंगे जो निम्नलिखित है |

Android Mobile Iphone
एंड्राइड फोन #Google के Operating सिस्टम Android पर चलता है | Apple कंपनी के Operating सिस्टम IOS पर Iphone वर्क करता है |
अगर आप ओवर ऑप्टिमाइजेशन (Optimization) करना चाहते है तो एंड्राइड ठीक है | Iphone में कंपनी जो दिया है वही रहेगा | आप खुद से किसी फाइल को अनावश्यक छेड़-छाड़ नहीं कर सकतें |
एंड्राइड फोन कम से कम कीमत पर खरीद सकतें है जैसे लगभग 5500 रुपये | एप्पल का फोन खरीदने के लिए अधिक रकम लगाना होगा | सामान्य Quality के फोन लेने के लिए न्यूनतम 24,000 रुपये भुगतान करना होगा |
एंड्राइड फोन में मन पसंद वॉलपेपर , म्यूजिक टोन बदल सकतें है | नहीं, यहाँ पर संभव नहीं है |
एंड्राइड मोबाइल में आसानी से ब्राउज़र द्वारा गाना, म्यूजिक, विडियो डाउनलोड कर सकते हैं | मुस्किल है |, जो song एप्पल के एप में उपलब्ध है उन्हें ही इस्तेमाल करना होगा |
एक्सटर्नल मेमोरी कार्ड लगाना आसान है | नहीं , इंटरनल स्टोरेज से काम चलाना होगा |
एंड्राइड फोन को बहुत सारी कंपनी निर्माण करती है जो आसानी से छोटे मार्किट में मिल जातें है | I.Phone को मात्र एप्पल कंपनी बनाती है | इसे खास जगह जैसे Apple सर्विस सेंटर या ऑनलाइन Shopping साईट से खरीद सकतें है |
एंड्राइड फोन में हीटिंग और हैंगिंग प्रोब्लेम का सामना करना पड़ सकता है | आईफोन में हीटिंग और हैंगिंग प्रॉब्लम बिलकुल भी नहीं है |
नए Operating सिस्टम को पुराने फोन में चलाना मुस्किल है | नए Operating सिस्टम को पुराने फोन में आसानी से इस्तेमाल कर सकते है |
एंड्राइड फोन में हार्डवेयर और सॉफ्टवेर अलग-अलग कंपनियां लगाती है | हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर को खुद एप्पल कंपनी बनाती है |
एंड्राइड फोन में Software Update आने पर तुरंत नहीं मिलता इसके लिए आपको इन्तेजार करना होता है | यह सुविधा खास फोन में दिए जाते है | नए Software Update आते ही सभी फोन को Notification मिल जातें है |

 

 

Android Phone Iphone
App इनस्टॉल करने के लिए Google Play Store का सहारा लिया जाता है | App Store करने के लिए App Store में जातें है |
फोन में Apk फाइल इनस्टॉल कर सकतें है | एप्पल के फोन में Apk इनस्टॉल नहीं कर सकते | आपको केवल App Store से एप Install करना होगा |
एंड्राइड Set का Camera Quality एप्पल के फोन से नार्मल होता है | Apple का Phone कैमरा के मामले में सबसे आगे है | हम यूँ कहें की पिक्चर क्वालिटी में DSLR से कम नहीं है |
एंड्राइड फोन एक वर्ष के बाद पुराने जैसा लगते हैं | Iphone को पांच वर्ष यूज करने के बाद भी Premium लगेगा |
दुनियां में एंड्राइड फोन की विक्री सबसे अधिक है क्यूंकि यह सस्ते में अधिक फीचर देतें है | आईफोन का संख्या एंड्राइड के मुकाबले बहुत कम है | क्यूंकि यह महंगे और मात्र एप्पल कंपनी निर्माण करती है |
Play Store पर अधिक मात्रा में एप उपलब्ध है जिसे आप Free में इंस्टाल कर सकतें है | App Store पर सिमित एप है | अधिकतर एप इस्तेमाल करने के लिए शुल्क भुगतान करना पड़ता है |
एंड्राइड सेट में गड़बड़ी होने पर सर्विस सेंटर पर चक्कर लगाना पड़ता है | या कस्टमर केयर से संपर्क करना होता है | बाद में हमें लोकल दुकान से ठीक कराना पड़ता है | Iphone द्वारा यूजर को Customer Support बहुत अच्छा मिल जाता है | Apple कंपनी अपने ग्राहक को अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने की कोशिश करती है |
एंड्राइड फोन में एक समय में दो काम कर सकते है जैसे फोन पर बात करते समय इन्टरनेट पर कुछ काम कर सकते है | एप्पल आपको एक से अधिक काम करने की Permission नहीं देती है | आप मात्र एक ही काम कर सकते है |
अगर आपका फोन चोरी या गायब हो जाता है तो लॉक तोडना आसान है | आपका सिक्यूरिटी काम नहीं आएगा | अगर आपका Iphone चोरी हो जाता है तो डाटा निकलकर यूज करना असंभव है | लॉक खोलने के लिए Apple Store जाना होगा और आपके सिवा कोई जा नहीं सकता |

 

इस पोस्ट में एंड्राइड फोन और आईफोन (Android Phone Vs Iphone In Hindi) के बिच मुख्य अंतर को बताया गया है | जिसको पढ़कर आसानी से किसी भी Smartphone को खरीद सकतें है | अगर आप सस्ते में अधिक फीचर का फोन लेना चाहते है तो Android Set बढियां है और जो व्यक्ति अधिक रकम लगाकर अधिक Feature नहीं चाहते उन्हें Apple का Iphone लेना उचित है | आई.फोन में सिक्यूरिटी सबसे अधिक है |

 


इसे भी पढ़ें |

देसीविड (DESIVID) ऐप पर वीडियो कैसे अपलोड करें?

अपने नाम का बर्थडे सोंग कैसे बनाये ?

वकील काला कोट क्यों पहनते हैं ? जानिए

सैनिटाइजर क्या है ? और यह किस प्रकार उपयोगी है |

अपने नाम का बर्थडे सोंग कैसे बनाये ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top