websitehindi channel

आंखों में पानी क्यों आती है छोटे बच्चों को ?

बच्चों की आंखों में पानी आने की समस्या? इस समस्या का हल हर माँ- बाप के पास होना चाहिए | इस पोस्ट में जानेंगे की बच्चों की आंखों से पानी आने का कारण क्या है?

जैसा की आप जानते है छोटे बच्चों के लालन-पालन में अनेक प्रकार के समस्या आती है | उन्ही में से एक है आंखों में पानी आना | जब बच्चों के आँखों से पानी आती है तब मम्मी कहती है की बच्चा रो रहा है लेकिन ऐसा नहीं होता है | अन्य बहुत सारे कारण है जिसके वजह से Baccho Ki Aankhon Mein Pani Aana शुरू हो जाता है |

आंखों-में-पानी
Aankhon Mein Pani

आंखों में पानी क्यों आती है छोटे बच्चों को ? Why Do Young Children Get Water In Their Eyes

छोटे बच्चो को आँखों से पानी आने का अनेक कारण हो सकता है | लेकिन आंखों में पानी आने की समस्या (Newborn Baby Eyes Problem In Hindi) को एपिफोरा (Epiphora) कहते है |  (इसे भी पढ़ें Pubg के मालिक कौन है? पब्जी का Release तिथि और भारत में BAN होने का कारण !)

(1.) नासोलैक्रिमल वाहिनी

नाक के अन्दर पाये जानेवाला नासोलैक्रिमल वाहिनी नली बिकसित नहीं होता है या किसी वजह से ब्लॉक हो जाता है तो आंसुओं को सही रस्ते से निकलने में परेशानी होती है | परन्तु परेशान होने की जरुरत नहीं है | यह समस्या हप्तो में अपने आप ठीक हो जाती है |

(2.) आंसू नलिका में समस्या

कभी – लाभी छोट लगने या इन्फेक्शन होने से आँखों से तेज आंसू निकलने लगता है | (इसे भी पढ़ें भरपूर नींद नहीं लेने के कारण, लक्षण और घरेलु उपचार (नुस्खे))

(3.) आंखों में बाहरी वस्तुओं को जाने से

आंख एक नाजुक पार्ट होता है | जब आँखों में चोट, धुल-कण, कंकड़ लग जाता है तो इन चीजो को बाहर निकालने के लिए अधिक आंसू बनने लगता है |

(4.) संक्रमण फैलने से आँखों से आंसू आना

बच्चो में संक्रमण का खतरा बहुत अधिक होता है | जब बच्चों को एलर्जी, फंगी और बैक्टीरिया अपने चंगुल में जकड लेती है तो बच्चो को आंख आने (Bache Ki Aankh Aana) की समस्या होती है | बच्चो के आंखों से अधिक पानी निकलना मतलब आंख आने का लक्षण भी हो सकता है | (इसे भी पढ़ें बच्चों को शहद कैसे खिलाएं? फायदा और नुकसान !)

बच्चो में आँखों से पानी आने का लक्षण – Symptoms Of Watery Eyes In Children

 

  • आंखों में दर्द होने के साथ पानी निकलना
  • धुंधला दिखाई देना |
  • आंखे अधिक समय तक लाल रहना |
  • पलकों के ऊपर सूजन होना |
  • आंखों से अधिक पानी आना |
  • किसी रौशनी को देखने पर सहन न करना |
  • आंखों में बाहरी वस्तुओं को चले जाने का एहसास करना |

बच्चो की आंखों से पानी आने का उपचार – Treatment Of Watery Eyes Of Children

आंखों से पानी आना (Eyes Se Pani Aana) कोई बड़ी समस्या नहीं है क्यूंकि एक-दो हप्तों में आंखो में पानी आना ठीक हो जाता है | कभी-कभी अन्य परेशानियों से आंखों से पानी आना बंद नहीं होता है तो डॉक्टर से दिखाने की कोशिश करना चाहिए | (इसे भी पढ़ें 2021 में गुटखा-तम्बाकू छोड़ने का आसान तरीका)

अगर एलर्जी से पानी आये तो यह सात से दस दिनों में ठीक हो जाती है पर Antihistamines युक्त Drops इस्तेमाल करने से यह परेशानियाँ ठीक होने लगता है |

गुलाबी आंख (कंजक्टिवाइटिस) के लक्षण पाये जाने वाले बच्चो को एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन कराने से ये समस्या ठीक होने लगती है |

कभी-कभी आंखों में गर्दा, लुती पड़ जाती है तो आंखे लाल हो जाती है जिसके वजह से आँखों से पानी आने लगता है | अगर ऐसा होता है तो सूती के कपडे या रुई से साफ कर देनी चाहिए | इस काम को संभल कर करना चाहिए क्यूंकि बच्चे की आंखे बहुत नाजुक होते है | (इसे भी पढ़ें लाल रक्त कोशिकाएं (Red Blood Cells) को घटने व बढ़ने के कारण !)

अगर बच्चे के आंख में कुछ गिर गया है तो नार्मल पानी से धोकर साफ कर देनी चाहिए | इससे आंखों से कीचड़, लुती बाहर निकल जाती है |

अधिकतर माओं को पता होता है की नाक के ऊपर हिस्से को मालिस क्यों करना चाहिए | आंसू निकलने की नलिका जाम हो जाये या कोई समस्या हो तो नाक के ऊपर हल्का सा मालिश करें | ध्यान रहें यह प्रक्रिया सावधानी से करना चाहिए | (इसे भी पढ़ें सफेद दाग (Safed Daag) हटाने के उपाय | घरेलु नुस्खे 2021 में)

आंखों में पानी आने से कैसे बचाए? How To Prevent Watery Eyes

अगर आपके बच्चों के नयन में पानी आने की समस्या होती है तो आसान उपायों से पानी आने से बचाया जा सकता है |

आज के डिजिटल समय में हर घर में टीवी और मोबाइल Available है | अगर आपका बच्चा अधिक देर तक टीवी, मोबाइल देखता है तो तुरंत रोक लगाये | क्यूंकि इससे पानी आने से साथ आंखे खराब हो सकती है | (इसे भी पढ़ें जोड़ों में दर्द की दवा कारण, लक्षण और उपचार हिंदी में !)

बच्चे को खाने की वस्तुए साफ हाथो से देना चाहिए | अक्सर देखा गया है बच्चा धुल मिट्टी में अधिक खेलता है | जिससे उनका हाथ गन्दा हो जाता है | जब बच्छा खेल ले तब सफाई पर भी ध्यान दें |

धुल, कण के साथ तेज हवाए चल रही हो तो बचने की कोशिश करें | अगर आप अधिक तेज हवा में बच्चो को रखते है तो आँखों में धुल पड़ सकता है | (इसे भी पढ़ें फेसबुक का रंग नीला क्यों होता है ?)

Conclusion

इस पोस्ट में बच्चों की आंखों में पानी क्यों आती है? के बारे में बताया गया है | यह भी बताया गया है की नवजात शिशु के आंख में पानी (Navjat Shishu Ki Aankh Me Pani) क्यों आती है? अगर आप लेख पढ़ लेते है तो तुरंत उपचार कर सकते है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top