जमीन रजिस्ट्री कैसे करे? 2021 में दस्तावेज, ड्यूटी स्टाम्प के बारे में सामान्य जानकरी |

जमीन रजिस्ट्री कैसे करे? : अगर आपके पास ठोस जानकारी नहीं है की Jamin Ki Rajistri Kaise Kare तो जमीन खरीदते समय आपको सावधानी वरतना होगा | इस पोस्ट में Online Jamin Rajistri 2021 के बारे में जानेंगे |

जब एक माध्यम वर्गीय व्यक्ति जमीन खरीदने के बारे में सोंचता है तो वह बहुत मेहनत करके रुपये इकठ्ठा करता है | लेकिन वह तब परेशानी में फंस जाता है जब उसके पास भूमि, स्टाम्प ड्यूटी, और पंजीकरण के बारे में जानकारी नहीं होती है |

jamin-rajistri-kaise-kare-hindi

अगर आपको भूमि बेचने -खरीदने तथा कागजात के बारे में जानकारी नहीं है तो आप कहीं भी धोखा खा सकते है | अगर आपको इसके बारे में विवरण चाहिए तो एक अच्छे वकील से सलाह लेना गलत नहीं होगा | इस पोस्ट में भूमि पंजीकरण की प्रक्रिया (Procedure Of Land Registration In Hindi) को हिंदी में जानेंगे | (इसे भी पढ़ें किसी भी जमीन का खतियान निकले Department of revenue and land reforms)

जमीन रजिस्ट्री क्या है? – What Is Jamin Rajistri In Hindi

किसी भी जमीन का मालिकाना हक़ एक मालिक का होता है | जब आप किसी व्यक्ति से भूमि खरीदते है तो उसके बदले एक दस्तवेज की जरुरत होती है | यह दस्तवेज साबित करता है की इस जमीन पर पूरा हक़ खरीदने वाले व्यक्ति का है | भूमि (जमीन) से संबंधित लेन-देन, सरकारी टैक्स, खरीद-विक्री अब नए मालिक के हांथो में होता है | इसीलिए Jamin Ki Registry करवाना अनिवार्य होता है | (इसे भी पढ़ें Nominee Name क्या है? नॉमिनी के बारे में पूर्ण जानकारी हिंदी में जानिए |)

भूमि की रजिस्ट्री के लिए जरूरी दस्तावेज – Documents Required For Land Registry

जमीन (भूमि) Registry करवाते समय निम्नलिखित में से सभी डॉक्यूमेंट लग सकतें है | ये दस्तवेज अलग – अलग जगहों और स्थिति में देना होगा | (इसे भी पढ़ें जमीन खरीदने से पहले ये सावधानियां बरतें)

पहचान पत्र – आधार कार्ड, वोटर कार्ड
अकाउंट सर्टिफिकेट – खाता प्रमाण पत्र
नॉन – नॉन ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट्स
प्रॉपर्टी से संबंधित नए कागजात
बैनामा
अलॉटमेंट लैटर
रजिस्टर 2

 

जमीन खरीदने से पहले सावधानियां – Precautions Before Buying Land

किसी भी Jamin की रजिस्ट्री करवाने से पहले महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान देना चाहिए |

-जमीन खरीदने से पहले पुराना मालिकाना हक़ के बारे में जानिए |

भूमि खरीदने से पहले पुराने मालिकाना हक़ के बारे में जरुर जानिए | जो आप जमीन खरीद रहें है वह झगडालू तो नहीं है | कहीं पुराने जमीन पर अधिक लोगो का हक़ तो नहीं है | ये सब जानने के लिए भूलेख वेबसाइट पर जाकर खसरा नंबर या खाता संख्या दर्ज करें | इसके बाद ओरिजिनल मालिक का नाम पता कर सकते है | (इसे भी पढ़ें Ctet Question Paper In Hindi Pdf – सीटेट परीक्षाओं में सहायता के लिए 50 क्वेश्चन आंसर |)

-स्टाम्प ड्यूटी और रजिस्ट्री चार्ज – Stamp Duty And Registry Charge

किसी भी भूमि (जमीन) को खरीदते समय लगने वाला टैक्स स्टाम्प ड्यूटी कहलाता है | जब भी आप जमीन खरीदते है तो जमीन के कीमत के अलावां पार्टीशन डीड, पावर ऑफ़ अटॉर्नी, कवेयन्स डीड, लीज डीड जैसे चार्ज भुगतान करना पड़ता है |

-विज्ञापन और झूठे दावे – Advertisement And False Claims

बहुत सारे न्यूज़ पेपर और वेबसाइट पर जमीन बेचने-खरीदने का ऐड दिखाया जाता है | परन्तु सभी ऐड सही नहीं होता है | अगर आप किसी डीलर से जमीन खरीदना चाहते है तो यह पता करें की जमीन का असली मालिक कौन है | क्यूंकि आजकल फ्रॉड डीलर झूठे वादे करके लोगो को धोखा देतें है | (इसे भी पढ़ें जानिए 2021 में नीम के पत्तियां खाने के फायदे हिंदी में |)

-जमीन की प्रकार – Type Of Ground

देहाती क्षेत्र और शहरी क्षेत्र के जमीन का भाव अलग-अलग होता है | जमीन के रजिस्ट्री करवाने से पहले यह जानना होगा की जमीन व्यावसायिक है या घरेलु क्यूंकि दोनों का रजिस्ट्री फीस अलग-अलग होती है |

-जमीन के सरकारी रेट – Official Rates Of Land

किसी भी जमीन का कीमत उसके लोकेशन के अनुसार कम या ज्यादा हो सकती है |  लेकिन आपको पता करना चाहिए की जिस Location में आप जमीन खरीद रहें है उस जगह जमीन का कीमत कितना है | इसके साथ जमीन का सरकारी रेट जानना जरुरी होती है | इससे जमीन की  ओरिजिनल वैल्यू पता कर सकते है | (इसे भी पढ़ें Top 5 Best Android Apps Download In Hindi यह बहुत काम की एप है !)

स्टाम्प ड्यूटी की गणना क्यों और कैसे करें ? – Why And How To Calculate Stamp Duty

जब भी आप जमीन खरीद रहे है उस जमीन के स्टांप ड्यूटी के खर्च जानने के उद्देश्य से जानकारी प्राप्त कर सकतें है | इससे अनुमान लग जायेगा की आप जो जमीन खरीद रहें है उस जमीन के अनुसार स्टाम्प ड्यूटी पर कितना (Rajistri Rate) खर्च आएगा |

Jamin Rajistri 2021 में करवाने के लिए सरकारी खर्च को जानना बहुत जरुरी होता है | Google में बहुत सारे वेबसाइट है जिसके अनुमान लगा सकते है की आपके प्रॉपर्टी के दाम अनुसार कितना खर्च आएगा | स्टाम्प ड्यूटी चार्ज 1% से 7 % तक तथा पंजीकरण शुल्क 1% लिए जाये है | यह शुल्क अलग-अलग Location पर घट-बढ़ सकता है |

सबसे पहले Google में Stamp Duty Calculator सर्च कर किसी भी वेबसाइट से चेक करें | डायरेक्ट स्टाम्प ड्यूटी कैलकुलेटर वेबसाइट पर जाने के लिए निचे दिए गए लिंक पर जाये |

Stamp Duty Calculator WebsiteClick Here

Stamp-Duty-Calculator-Website

सब-रजिस्टर (Sub-Register) के पास जमीन रजिस्ट्री कैसे करवाए?

जमीन से संबंधित पूरी जानकारी जानने के बाद स्टाम्प ड्यूटी पेपर खरीदना व प्रिंट करवाना होता है | अगर आप किसी वकील या तईद के साथ मिलकर जमीन खरीद रहें है तो वहाँ से सभी पेपर मिल जाता है |

एक पेपर जमीन को खरीद – विक्री करने के लिए बनवाना पड़ता है | अगर आप गाँव या किसी परिवार से जमीन खरीद रहें है तो यह जरुर लिखवायें की जमीन के मालिक, गवाह, खरीदने वाले का नाम क्या है ?

अब सब रजिस्टर ऑफिस में जमीन बेचने वाले और खरीदने वाले की जरुरत होती है | दो ऐसे गवाह की जरुरत होगी जो उसी गाँव या भूमि के आसपास का रहने वाला हो | इनमे से सभी व्यक्ति के पास पहचान पत्र – आधार कार्ड / वोटर कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए |

सभी डॉक्यूमेंट ऑफिस में जमा होती है और वह चारो व्यक्ति का डिटेल्स वेरीफाई और अंगूठे का निशान लेकर Receipt निकाल देता है | 10-15 दिनों के भीतर आपका जमीन का नए डॉक्यूमेंट बनकर तैयार जाता है | यह डॉक्यूमेंट वकील या स्वयं ले सकते है | इस तरह से जमीन रजिस्ट्री करा सकते है |

इस पोस्ट में भूमि/ जमीन रजिस्ट्री कैसे करे? के बारे में बताया गया है | हमे उम्मीद है की Jamin Rajistri करने से संबंधित जानकारी हेल्पफुल होगा | इससे संबंधित अन्य जानकारी के लिए कमेंट करें या अन्य बाते Jameen Registration से संबंधित जानने के लिए वकील से संपर्क कर सकतें है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top