websitehindi channel

TIN और PAN में क्या अंतर है? फुल जानकारी हिंदी में |

Last Updated on 2 months by websitehindi

TIN और PAN में क्या अंतर है? What Is The Difference Between A TIN And A PAN : ऑनलाइन आवेदन करते समय कहीं न कहीं TIN Number और PAN Number का नाम सुने होंगे |

लेकिन आपके पास टिन नंबर नहीं है तो क्या करेंगे | सबसे पहले आपको यह जानना जरुरी है की PAN Number और TIN Number का यूज कहां होता है | फॉर्म में टिन नंबर का बॉक्स रहने पर हम सभी Confusion में पड़ जाते है लेकिन इस आर्टिकल को पढने के बाद सब क्लियर हो जायेगा |

difference-between-a-tIn-and-a-pan-HINDI

PAN क्या है?

पैन नंबर 10 डिजिट का कोड होता है जिसका फुल फॉर्म PAN Full Form “Permanent Account Number” होता है | इस नंबर से किसी भी व्यक्ति के फाइनेंसियल स्थिति जान सकते है | आज के समय में हर भारतीय व्यक्ति का पैन कार्ड अनिवार्य हो गया है | (इसे भी पढ़िए वर्डप्रेस प्लगइन साइबर पैनल या cpanel से अपलोड कैसे करें?)

अगर आप किसी बैंक में खाता Open करने की सोंच रहें है तो आपको PAN Number की आवश्यकता होगी | अगर आप ऑनलाइन किसी के साथ लेन – देन करते है तो उसका पूरा विवरण पैन कार्ड में दिया रहता है |

TIN क्या है?

यह 9-11 डिजिट का कोड होता है जिसका फुल फॉर्म TIN Full Form – Taxpayer Identification Number होता है | इसे सोशल सिक्यूरिटी नंबर के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है ताकि बिज़नेस के फाइनेंसियल स्थिति के बारे में पता चल सके |

इसके पहले एक राज्यों से दुसरे राज्यों में क्रय – बिक्री करने के लिए TIN नंबर का इस्तेमाल किया जाता था ताकि व्यापारी Vat से बच सके | इसके बाद भारत में श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा Gst लागु किया गया | (इसे भी पढ़िए Top 5 Game App – गेम से पैसे कैसे कमाए?)

तभी से आज के छोटे – बड़े व्यापारी Gst Registration करवाते है | अगर आप अन्य राज्यों तक बिजनेस करना चाहते है तो आपको जीएसटी नंबर की आवश्यकता होती है | यानि की आप जी.एस.टी नंबर से पुरे इंडिया में बिजनेस कर सकते है |

TIN और PAN में क्या अन्तर है?

अगर किसी भी फॉर्म में टिन और पैन नंबर भरने को कहा जाये तो दोनों में अंतर जानना बहुत ही जरुरी है |

अगर आप इंडिया में Individual काम करते है तो आपको पैन नंबर की जरुरत होती है | वही भारत में व्यापारी के रूप में काम करने वाले लोगो को TIN नंबर रखना पड़ता था लेकिन जब से Gst नंबर जारी हुई है तब से TIN नंबर के बदले Gst Number की जरुरत होती है |

अगर आप इंटरनेशनल टैक्स भरने की सोंच रहें है तो आपको बता दू पैन नंबर और टिन नंबर में कोई अंतर नहीं होता है क्यूंकि टिन नंबर के बॉक्स में पैन नंबर आसानी से भर सकते है |

कुछ महीनों पहले Adsense का एक अपडेट आया था जिसमें Us का Tax Form भरने के लिए कहा गया | इस स्थिति में Individual अकाउंट में PAN Card Number का यूज हुआ |

पैन और टिन दोनों इनकम टैक्स से संबंधित होते है आप इसलिए भी समझ सकते है की अगर किसी आवेदन में TIN नंबर माँगा जाये तो आप PAN नंबर भी भर सकते है |

निष्कर्ष (Conclusion)

वेबसाइटहिंदी.कॉम के आर्टिकल में TIN और PAN में क्या अंतर है? What Is The Difference Between A TIN And A PAN के बारे में फुल जानकारियां शेयर किया गया है | इस आर्टिकल में यह भी बताया गया है की पैन नंबर के बेनिफिट्स क्या होतें है |

मुझे उम्मीद है PAN Number और TIN नंबर के Difference आपको समझ आ गया होगा | अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो सोशल मीडिया साईट पर शेयर करें ताकि अन्य लोग भी इसका फायदा उठा सकते है | आप हमारे Website-Hindi Youtube Channel और Desivids Youtube Channel को Subscribe कर सकते है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top