जवान लड़कियों की डाइट कैसा होना चाहिए?

Last Updated on 1 year by websitehindi

जवान लड़कियों की डाइट कैसा होना चाहिए? यह बाते स्वयं यंग लड़कियाँ भी समझती है | क्यूंकि बढती उम्र में उन्हें पता होना चाहिए की शरीर को मेंटेन रखने के लिए किस प्रकार की Diet शामिल करना चाहिए |

जब लड़कियों की उम्र 18-20 पार कर जाती है तो उन्हें बहुत सारे समस्या सामने आते है | स्ट्रोंग पढाई की बोझ और भागदौड़ जीवन में बदलाव होती है तो शारीर पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है | इस उम्र में जॉब, शादी और परिवारिक समस्याओं का प्रभाव बढ़ सकता है इसीलिए हर जवान लड़कियों को खाने में व‍िटाम‍िन, एंटी- ऑक्‍सीडेंट, प्रोटीन, कैल्‍श‍ियम से भरपूर डाइट का सेवन करना चाहिए |

जवान-लड़कियों

 

जवान लड़कियों को डाइट में होनेवाला जरुरी पोषक तत्व

यंग लड़कियों के उम्र शरीर पर बहुत ज्यादा गलत असर कर सकता है | क्यूंकि आज के जवान लड़कियाँ वसा युक्त जंग फास्ट फ़ूड खाना पसंद करती है |

लड़कियों को अपने शरीर ठीक रखने के लिए प्रोटीन तथा भोजन में खनिज जरुर शामिल करना चाहिए | आइये जानते है यंग गर्ल्स को खाने में किस प्रकार का डाइट शामिल करना चाहिए | (इसे भी पढ़ें दिल को मजबूत कैसे बनाये?)

कैल्शियम की पूर्ति

जब लड़कियों की उम्र 21 की होती है तो उन्हें कैल्शियम की पूर्ति करना चाहिए | कैल्शियम का सेवन मांसपेशियों को मजबूत बनाता है | जो लड़कियां कैल्शियम के सेवन से दूर भागती है | इसे ठीक करने के लिए दूध और दूध से बने पदार्थो का सेवन करना चाहिए | जिन लड़कियों की शादी जल्दी हो जाती है उन्हें कम उम्र में माँ बनने पर बच्चो को ब्रेस्टफीड कराने में परेशानी हो सकती है |

आहार में पालक का सेवन जरुर जकरना चाहिए क्यूंकि पालक में भरपूर कैल्शियम मौजूद होता है | बेहतर  प्रोटीन और कैल्शियम के लिए भोजन में मसूर दाल और मुंग दाल को शामिल करें |

हरी सब्जियां

जैसा की हम जानते है शरीर में पोषक तत्व की आवश्यकता अधिक होती है | इसीलिए खाने में हरी सब्जियां को शामिल जरुर करें | (इसे भी पढ़ें फॉल्स प्रेगनेंसी क्या है? False Pregnancy In Hindi)

प्रोटीन युक्त डाइट और फल

लड़कियां अपने बाल और नाख़ून मजबूत बनाने के लिए क्या – क्या नहीं करती है | लेकिन वह चायनीज खाना खाकर अपना सेहत खराब कर लेती है | बाहरी खाना न खाकर घर का प्रोटीन युक्त दाल  रोटी चावल खा सकती है | बाहरी खाना खाने में कोई दिक्कत नहीं है पर हमेशा खाने का मतलब परेशानी खुद पालना कहेंगे |

हो सके तो समय- समय पर खाना खाने के बाद एक या दो फल को शामिल जरुर करें | खाने के पहले सेब या खाने के बाद केला को डाइट में शामिल कर सकती है |

शरीर में जल की आवश्यकता

अगर आप खाने में भरपूर प्रोटीन , भोजन में खनिज और कैल्शियम की पूर्ति करते है तो हर दिन कम से कम 4 लीटर पानी पीना जरुरी होता है | अगर आप पानी कम पीते है तो खाया हुआ भोजन बेकार है | (इसे भी पढ़ें हिलते दांत का उपचार घरेलु उपचार व नुस्खे |)

Conclusion

इस पोस्ट में जवान लड़कियों की डाइट कैसा होना चाहिए? (What should be the diet of young girls) के बारे में जानकारी शेयर किया गया है  | अगर आप कड़ी पढाई करती है तो आपको दूध, अंडे, घी, दाल, पनीर और पालक का सेवन जरुर करना चाहिए |

Leave a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top