सॅटॅलाइट क्या है ? यह हवा में कैसे टिका है !

what is satellite in hindi

Satellite क्या है ? के बारे में जानने के लिए वेबसाइट हिंदी पर लिखे हुए पूरा लेख पढ़ें | अधिकतर व्यक्ति का सवाल ऐसा ही होता है की सॅटॅलाइट हवा में कैसे उड़ता है ?

आप जितने भी डिजिटल काम कर रहें है वों सभी satellite के वजह से है | घर में टीवी देखना, फोन पर बातचीत करना, मौसम की खबर ये सभी के बारे में जानकारियां प्राप्त करने के लिए सॅटॅलाइट का प्रयोग करतें है |

satellite kya hai hindi
satellite kya hai hindi

सॅटॅलाइट क्या है ? what is satellite in hindi

#सॅटॅलाइट को हिंदी में उपग्रह कहते है | उपग्रह एक मानव निर्मित वास्तु है जो मानव के प्रयास से अंतरिक्ष कक्ष में रखा गया है | इसे आप कृत्रिम उपग्रह भी कह सकतें है |

इसी तरह से अंतरिक्ष में अनेक प्राकृतिक उपग्रह है जो कक्ष में चारो तरफ चक्कर लगते है | जिस तरह से चंद्रमा पृथ्वी का चक्कर लगाता है उसी तरह मानव निर्मित उपग्रह भी अपने कक्ष में घूमता है | जिससे हम दैनिक जीवन में डिजिटल चीजो का इस्तेमाल करते है | “satellite” का आकार जितना होता है उसी के अनुसार काम भी करता है |

सॅटॅलाइट काम कैसे करता है ?

इन्हें भी उर्जा की आवश्यकता होती है जिसके दोनों तरफ सोलर पैनल लगा होता है | signal को भेजने और रिसीव करने के लिए ट्रांसमीटर और रिसीवर लगे होते है | हम यह कह सकते है की सॅटॅलाइट को कम्युनिकेशन के लिए ही बनाया जाता है | ये अपने से बड़े उपग्रह का परिकरमा करता है इसीलिए सॅटॅलाइट को इअसा बनाया जाता है की इनकी स्पीड पृथवी के ग्रुत्वाकर्षण बल को अपने ऊपर हावी होने नहीं देता है | जिसके चलते सॅटॅलाइट हवा में टिके रहता है |

सॅटॅलाइट का श्रेणी

सॅटॅलाइट को तीन श्रेणी में विभाजित किया गया है जो निम्नलिखित है |

Low Earth Orbit (LEO)

यह धरती से सबसे नजदीक का satellite है | यह धरती से 180 km से 2000 km के ऊंचाई तक हो सकता है |

यह सॅटॅलाइट अन्य सॅटॅलाइट से अधिक बार पृथ्वी का प्रिकारना करता  है | इसकी संख्या अन्य बड़े सॅटॅलाइट से अधिक होती है |

Medium Earth Orbit (MEO)

यह सॅटॅलाइट leo सॅटॅलाइट के मुकाबले कम गति से परिकरमा करता है | यह एक दिन में पृथवी का दो चक्कर लागत है | यह पृथवी से दुरी की बात करें तो लगभग 2000 km ऊंचाई से 36,000 km ऊंचाई तक घूर्णन करता है |

इस सॅटॅलाइट का प्रिकारना करने का समय set रहता है | जिस जगह से जिस समय से गुजरता है अगले बार उसी समय में उसी जगह से गुजरता है |

Geosynchronous Orbit (GEO)

यह सॅटॅलाइट सभी सॅटॅलाइट से अधिक बड़ा होता है | इसकी ऊंचाई पृथवी से 36,000 km से अधिक दुरी पर होता है |

इस satellite का घूर्णन काल अधिक समय में पूरा होता है | जितने दिन में पृथवी एक पर परिकरमा करती है उतने ही दिन में GEO सॅटॅलाइट भी पृथवी का परिकरमा करता है |


#satellite_kya_hai

इसे भी पढ़ें |

Pubg Game के मालिक कितना गरीब था – पूरा जानकारी हिंदी में !

Login Vs Sign In में क्या अंतर हैं ?

वकील काला कोट क्यों पहनते हैं ? जानिए

सैनिटाइजर क्या है ? और यह किस प्रकार उपयोगी है |

अपने नाम का बर्थडे सोंग कैसे बनाये ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top