जानिए रेलवे ट्रैक पर जंग क्यों नहीं लगती है ?

रेल पटरी पर जंग क्यों नहीं लगती है ? (Railway Tracks par Jnag kyu nhin lagti) हम सभी जानते है लोहे में जंग लगती है परन्तु लोहे की बनी पटरी में जंग लगना असम्भव है |

रेलगाड़ी एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा लोग दूर – दूर तक सफ़र करते है और रेल भारी वर्षा , धुप, ठंठी हर मौसम में चलती है | जिसके वजह से रेल पटरियां को खुले वातावरण में  (धुप, वर्षा, तूफ्ना ) में रहना पड़ता है फिर भी लोहे की पटरियां में जंग नहीं लगती |

Railway Tracks par Jnag kyu nhin lagti copy
Railway Tracks par Jnag kyu nhin lagti copy

जानिए रेलवे ट्रैक पर जंग क्यों नहीं लगती है ? – Why is there no rust on the railway track?

ये बात सही है की रेल की पटरी पर जंग नहीं लगती है | जैसा की आप जानते है रेल की पटरी लोहे की बनी होती है लेकिन आप नहीं जानते रेल की पटरी बनाने में स्टील और मेंगलॉय का इस्तेमाल किया जाता है | इन मिश्रण में 1 % कार्बन और 12 % मैगनीज होतें है | इन्हीं मिश्रण से लोहे के पटरी का आक्सीकरण धीमी गाति से होता है |

 

यही कारण है की लोहे की पटरी बनाने में कार्बन, लोहे, मैगनीज का मिश्रण डाला जाता है जिसके वजह से कई सालो तक जंग नहीं लगता है |

जब से रेल का अविष्कार हुआ तब से वैज्ञानिक ने ऐसा खोज निकाला जिसके बाद पटरी खुले वातावरण में रहे फिर भी जंग नहीं लगे | तब से लोहे, कार्बन और मैगनीज के मिश्रण से पटरी का निर्माण किया गया . ताकि पटरी वर्षो तक चले और बार – बार बदलना ना पड़े |

इस पोस्ट में रेल पटरी पर जंग क्यों नहीं लगती है ? (Railway Tracks par Jnag kyu nhin lagti) के बारे में जानकारियां शेयर किया गया है | कुछ लोग कहते है पटरी के ऊपर ट्रेनों को आने जाने से घर्षण होती है तो `आपको बता दे घर्षण तो ऊपर होती है लेकिन साइड के दोनों तरफ जंग नहीं लगता इससे साबित होता है की रेल पटरी जंग प्रतिरोधक होता है |


इसे भी पढ़ें |

ईमेल से 15Gb तक फाइल साइज़ को कैसे भेजें ?

सिम कार्ड का सीरियल नंबर कैसे निकले ?

फोन चोरी होने पर क्या करें ?

Torrent क्या होता है ? टोरेंट का उपयोग कैसे करे |

गूगल में फोटो अपलोड कैसे करें ? –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top