Independence Day 2022: स्वतंत्रता दिवस का दिन किसने तय किया?

Last Updated on 4 months by websitehindi

Independence Day 2022: स्वतंत्रता दिवस का दिन किसने तय किया? यह सवाल अपने आप में बहुत ही महत्वपूर्ण है की आखिर 15 अगस्त यानि की स्वतंत्रता दिवस का नाम किसके द्वारा पड़ा.

ईस्ट इंडिया कंपनी के उद्देश्य ही भारत पर शासन करना था. ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन लगातार 200 सालों तक किया गया.

East India Company एक प्रकार के  व्यापारिक कम्पनी थी, व्यापर का अधिकार प्राप्त करने के लिए ही वह भारत में आया था. जिसने शाही अधिकार पत्र द्वारा  1600 ई. में अधिकार प्राप्त कर लिया था.

भारत को आजादी मिलने में अनेकों वर्ष लग गए. जिसमें बहुत सारे वीरों द्वारा लड़ाई लड़ा गया. जिसके फलस्वरूप लॉर्ड माउंटबेटन ने 15 अगस्‍त तय करने का फैसला ले लिया. कहा जाता है की भारत ने विदेशी शासन के खिलाफ पहली बार 1857 में होशियारी दिखायी.

Independence Day 2022

Independence Day 2022

भारत के वीरों द्वारा कई सालों तक अंग्रेजों के शासन के खिलाफ संघर्ष किया गया. जिसमे बहुत सारे वीर अपने आप को क़ुरबानी के रूप में भेट चढ़ा दिए गए. हम सभी भारतवासियों के लिए 15 अगस्त एतिहासिक दिन है जिसको हर साल बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है.

जब से आजादी प्राप्त हुआ तब से आज तक हर साल पुरे भारतीयों द्वारा अलग ही जोश और उत्साह से स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है. 15 अगस्त को जान गवाने वाले नायकों को याद कर तीन रंगों का तिरंगा फहराया जाता है.

स्वतंत्रता दिवस का इतिहास क्या है?

ईस्ट इंडिया कंपनी  अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए 1700 के दशक में भारत में आये. जिसके बाद उनका रवैया ख़राब था और वे भारत पर शासन करने लगे. वे लोग भारतीय के साथ क्रूरता से पेश आते थे. अंग्रेजों के खिलाफ जाने का हिम्मत किसी में नहीं था.

लेकिन किसी भी अवसर में हर कोई कमजोर नहीं होता है. उसी समय सैनिक मंगल पाण्डेय द्वरा अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह किया गया. जिसके बाद हर कोई एकजुट होने लगा. इस दशक में भारतीय द्वारा एक लड़ाई भी लड़ा गया . लेकिन दुर्भाग्य से भारत हार गया.

इसके बाद भारत का डोर अंग्रेजों के हाथ में चला गया और उन्होंने जोरो से भारतीय पर शासन की. इसके पश्चात् भारत के सभी नागरिक एकजुट होने लगे. क्यूंकि ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा हम सभी भारतीयों पर बहुत ही शासन किया जाता था.

इसे भी पढ़िए |

स्वतंत्रता दिवस का दिन किसने तय किया?

अंग्रेजों द्वारा लड़ाई लड़ते-लड़ते 15 अगस्त 1947 को हमारा देश आजाद हुआ. इसी 15 अगस्त को लॉर्ड माउंटबेटन द्वारा स्वतंत्रता दिवस का नाम रखा गया. सन 1947 में 15 अगस्त को प्रथम प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु द्वारा भारत के लाल किले पर तीन रंगों का झंडा फहराया गया.

निष्कर्ष

वेबसाइटहिंदी.Com के आर्टिकल में Independence Day 2022 (स्वतंत्रता दिवस का दिन किसने तय किया) के बारे में पूरा जानकारी बताया हूँ. इस पोस्ट में यह भी बताया हूँ की आजादी के पहले भारत किसके हाथ में गुलाम था.

हिंदी में वेबसाइट हिंदी का पोस्ट पढना चाहते है तो ईमेल से वेबसाइट के न्यूज़ लेटर को सब्सक्राइब करें व यूटूब विडियो देखने के लिए Website Hindi Youtube Channel को Subscribe करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top