websitehindi channel

दांतों में तार लगाने के फायदे व नुकसान !

Last Updated on 8 months by websitehindi

दांतों में तार लगाने के फायदे व नुकसान (Advantages and disadvantages of applying wire to teeth) जानने के लिए पूरा पोस्ट पढ़ें | इस पोस्ट में टीथ ब्रेसेस के लगाने के बाद क्या होता है? इस लेख में जानिए |

हर इन्सान को दांत से प्यार होता है | शिशु को जब पहली बार दांत निकलता है तो सबसे पहले माँ-बाप बहुत खुश होतें है | दांत एक ऐसा भाग होती है जिसके द्वारा भोजन चबाकर खाने में मदद मिलता है | इसके अलांवा दन्त से चेहरे की खूबसूरती भी बढती है | लेकिन टेढ़े-मेढ़े दन्त होने पर डेंटिस्‍ट द्वारा दांतों में तार लगाने की बात कही जाती है |

दांतों-में-तार
teeth braces

क्या आपको पता है प्रकृति में जो उपयोगी चीज मिला है उसके साथ छेड़-छाड़ करने से फायदा होगा या नुकसान ! जैसा की आप जानते है दांतों में समस्या होने पर आसपास के अंगो को भी परेशानी हो सकती है |

दांतों में तार लगना क्या है?

दांतों में तार लगाने को अंग्रेजी में डेंटल ब्रेसेस कहा जाता है | इसकी मदद तब ली जाती है जब आपके दन्त एक दुसरे से दुरी पर है या आगे पीछे होतें है |

अगर आपके दांत खूबसूरती में बाधा बनती है तो आप  ब्रेसेस का सहारा ले सकते है | इससे खूबसूरती के साथ दन्त स्वास्थ्य भी हो जाते है पर इसके लिए ब्रेसेस को नियमित उपयोग करना होता  है | आज के आधुनिक समय में तार लगाना बहुत आसान हो गया है | (इसे भी पढ़ें फीडबर्नर ईमेल सदस्यता (Feedburner Email Subscription) बॉक्स ब्लॉग और वेबसाइट में कैसे लगाये?)

दांतों में तार (Danton me tar) लगाने के फायदे |

टीथ ब्रेसेस का यूज करने से टेढ़े मेढ़े दांत सीधे हो जाते है | अगर आपका दन्त एक दुसरे से अलग है तो दांत के ऊपर तार लगाकर ठीक कर सकते है |

आज के समय में हर किसी को बैक्टीरिया और मसूड़ों की बीमारी होने की संभावना होती है  | अगर आप दांतों में तार लगते है तो ये परेशानियाँ दूर हो जाती है | जिससे आपके अन्दर मानसिक और शरीरिक बीमारी दूर रहती है | (इसे भी पढ़ें जवान लड़कियों की डाइट कैसा होना चाहिए?)

दांतों में तार लगाने से जबड़ो की कमजोरी ठीक हो सकती है इसीलिए डेंटिस्ट से परामर्श कर teeth को ठीक करा सकते है |

Danton-me-tar

दांतों के ऊपर तार से होनेवाला नुकसान

दन्त में तार लगाने से अधिक नुकसान तो नहीं है पर सावधानियां नहीं वरतने से आपको नुकसान का सामना करना पड़ सकता है | यह परेशानी तब होती है जब तार लगने वाले जगह खाली रह जाता है तो उसमें कुछ फंसने का डर रहता है | (इसे भी पढ़ें Diksha App Selt Registration In Hindi / दीक्षा एप पर टीचर रजिस्टर कैसे करे 2021 में)

ब्रेसेस लगवाने से आपका दांत कमजोर हो सकता है अगर डॉक्टर के कहे अनुसार देखभाल नहीं करते है |

खाने से पहले और बाद मुलायम ब्रश से दन्त सफाई नहीं करते है तो आपके दन्त में कीड़े लग सकते है | इसीलिए मुलायम ब्रश का यूज करें  |

दांतों में तार लगाने के बाद सख्त चीजो का सेवन करते है तो आपका दन्त टूट सकता है इसीलिए ठोस पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए |

टेढ़े-मेढ़े दांतों को जगह पर लाने के लिए कितने दिनों महीनो तक ब्रेसेस पहनना चाहिए?

ब्रेसेस पहनना आपके दांतों के स्थिति पर निर्भर करता है | अगर आप ब्रेसेस लगवा लिए है तो हमेशा डेंटिस्ट से संपर्क करते है | समस्या और स्थिति के अनुसार ब्रेसेस का यूज 18 महीनो से 30 महीनो तक इस्तेमाल करना होता है |

ब्रेसेस लगाने के बाद क्या करें?

दांतों में प्रेसेस लगाने के बाद निम्नलिखित तरीका से ख्याल रखना होता है | (इसे भी पढ़ें 10 Voice Recorder Apps आवाज रिकॉर्ड करने के दस एंड्राइड एप्लीकेशन)

  • भोजन करने के बाद अच्छी तरीका से दन्त साफ करें |
  • दांतों की सफाई मुलायम ब्रश से करें |
  • ठोस पदार्थो को खाने से परहेज करें |
  • हमेशा मुलायम भोजन करें |
  • सख्त पदार्थ न खाए| जैसे चना, बादाम, चॉकलेट, मकई इत्यादि |
  • ऐसे पदार्थो का सेवन न करें जो दांतों में फंसता है जैसे मांस, पिज्जा और चिपचिपा पदार्थ |
  • समय-समय पर डॉक्टर से दिखाएँ |

Conclusion

वेबसाइटहिंदी के इस पोस्ट में दांतों में तार लगाने के फायदे व नुकसान के बारे में सरल जानकारियां शेयर किया गया है | अगर आपका दन्त ज्यादा बाहर या अंदर है तो ब्रेसेस (teeth braces) का इस्तेमाल कर आसानी से ठीक कर सकती है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top