Teacher Learning Plan

Teacher Learning Plan सीखने की योजना को बनाने का तरीका

Last Updated on 3 years by websitehindi

Teacher Learning Plan सीखने की योजना को बनाने का तरीका ( लर्निंग प्लान क्या हैं और इससे संबंधित जानकारी के लिए इस लेख को पढ़ना न भूले | )
किसी भी डिग्री कोर्स को करते समय या विद्यालय में Teaching करते वक्त  Lesson plan (पाठ योजना) और सीखने की योजना तैयार करना अनिवार्य माना जाता हैं | ताकि सिलेबस के अनुसार कोर्स को पूरा किया जा  किया जा सके |
नियमित रूप से पढाई करने के लिए Goverment भी आदेश जारी कर दी है की सभी अध्यापक हर दिन की Teacher Learning Plan (सीखने की योजना) बना सके | इसके लिए Market से टीचर लर्निंग प्लान के  कॉपी की खरीदारी कर सकते हैं |

Teacher Learning Plan सीखने की योजना को बनाने का तरीका

सरकारी या गैर सरकारी स्कूल , collage में शिक्षा देने के लिए सभी शिक्षक / शिक्षिका को पाठ योजना और टीचर लर्निंग प्लान (सीखने की योजना) की आवश्यकता होती हैं | अगर किसी भी अध्यापक को इसके बारे में कुछ जानकारी नहीं है तो वो teachers मात्र नाम का हैं |
अगर आप हर रोज के पढाई का हिसाब रखना चाहते हैं तो पुस्तक दुकान पर बहुत सारी फॉर्मेट मिल जाएगी लेकिन किसी मेंटर को विवरण बनाकर दिखाना हो तो कुछ नियम को जानना अनिवार्य होते हैं |
Deled Lesson Plan EVS पर्यावरण अध्ययन पाठ योजना लिखिए

सिखने की योजना तैयार कैसे करें ?

इसे भी पाठ योजना की तरह बनाई जाती हैं |
सबसे पहले स्वयं से या प्रिंटिंग फॉर्मेट बना ले |
सबसे ऊपर इस तरह शिक्षक और कक्षा पीरियड के डिटेल्स लिखें |
शिक्षक/शिक्षिका का नाम –
पाठ का नाम –
पीरियड –
विषय –
टॉपिक
दिनांक
कक्षा
1.  informative details  सूचनात्मक  विवरण –
यहाँ पर पाठ से संबंधित सभी विवरण लिखें |
2. विषय वास्तु से संबंधित पूर्व ज्ञान / समझ
कक्षा में होनेवाले पथाचार्या , पाठ्यक्रम में उल्लेखित बिंदु की जानकारी दे |
3. विषय वस्तु का विवरण
यहाँ पर subject से संबंधित नाम तथा उपयोग को लिखें |
4.  सिखने सिखाने की विधि :-
सिखने सिखाने की विधि को दर्शाना हैं | पाठ के अनुसार किसी भी विधि का प्रयोग करें जो इस प्रकार हैं | समूह कार्य , पाठ लेखन , प्रश्नोत्तर
इन सभी विधियों के चुनाव करने का कारण लिखना होता है |
5. लिखने की योजना :-
लिखने की योजना बनाना , विषय वस्तु से प्रश्नोत्तर को चुनना इत्यादि |
6.  शिक्षक / शिक्षिका के द्वारा मूल्यांकन :-
इसमे यह देखना होता है की क्या विद्यार्थी सभी इकाइयों को समझा ? सभी तरह से सवाल तैयार करना व मूल्यांकन करना |
7. अवलोकन से संबंधित :-
इसमे मेंटर द्वारा भरा जाता हैं |
अब आप Teacher Learning Plan ( सिखने की योजना ) को समझ चुके होंगे | आगले लेख में सभी पॉइंट को विस्तार से बताऊंगा |

4 thoughts on “Teacher Learning Plan सीखने की योजना को बनाने का तरीका”

  1. kaushal kumar kurre

    sir mai kaushal kumar kurre librarian govt.hr.sec.school khongsara bilaspur c.g.

    kya mai nios k madhyam se M.LIB.&Isc kr skta hu kripya margdarsan kre

Leave a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top