Re Evaluation

Re-Evaluation क्या है ? पुर्नमूल्यांकन Nios के अभ्यर्थी के लिए किस प्रकार उपयोगी है

Re Evaluation क्या है ? पुर्नमूल्यांकन Nios के अभ्यर्थी के लिए किस प्रकार उपयोगी है | ( अगर आप Deled परीक्षा में कम अंक आने से परेशान है तो यह लेख आपके लिए अति आवश्यक हैं |)
प्रत्येक वर्ष एन. आई. ओ.एस से लाखो अभ्यर्थी परीक्षा में पास करते है | जिसमे से अधिकतर पास होने के बाद दो-चार candidates के अंक में गड़बड़ी हो ही जाती है | अगर आपके साथ भी इस तरह के प्रॉब्लम आई है तो  Re Evaluation (पुर्नमूल्यांकन) का सहारा    ले सकते हैं |
आज से चार दिन पहले भी डी . एल . एड के परीक्षा में 95 % अभ्यर्थी पास किए हैं |
अगर किसी परीक्षार्थी को लगे की उनका उत्तर पुस्तिका सही से जाँच नहीं हुई है तो आप पूर्ण मूल्यांकन जरुर करें |
Lic Premium Calculator प्लान के प्रीमियम गणना कैसे करें

Re Evaluation क्या है ?

Re Evaluation को हिंदी में पुर्नमूल्यांकन कहते हैं | मतलब फिर    मूल्य आंकना |
अगर आपके REsult में गड़बड़ी दिखे तो आप उत्तर पुस्तिका को फिर से Check करने   के लिए आवेदन कर सकते हैं |
आइए Dled रिजल्ट में कमी होने पर पुर्न मूल्यांकन से संबंधित जानकारी को जानते हैं |
1.  रे इवैल्यूएशन क्यों करें ?
उत्तर :- अगर आपको लगे की उत्तर पुस्तिका लिखने के वावजूद आप संतुष्ट नहीं हैं तो आप रे इवैल्यूएशन करवा सकते हैं |
2. किसी भी विषय के पुन: परीक्षण के लिए आवेदन कब करें ?
उत्तर :- परीक्षा परिणाम के घोषणा की तिथि से 30 दिनों के भीतर आप किसी भी विषय की उत्तर पुस्तिका के पुन: परीक्षण के लिए आवेदन कर सकतें हैं |
3. आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है ?
उत्तर :- अगर आप किसी भी subject से संतुष्ट नहीं है तो सादे कागज का प्रयोग करके अध्ययन केंद्र पर समन्वयक के पास जमा कर सकते हैं |
4. क्या यह service फ्री हैं ?
उत्तर :- नहीं , आपको निर्धारित शुल्क 200 रुपया प्रति विषय राष्ट्रिय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संसथान को बैंक ड्राफ्ट के रूप में अदा करना पड़ेगा जो की सचिव nios के नाम से संबद्ध क्षेत्रीय कार्यालय पर देय होगा |
5. Answer copy की जाँच nios कितने दिनों में कर सकती हैं ?
उत्तर :- आपका Application मिलने के बाद 45 दिनों में निओस पुर्नपरीक्षण का कार्य पूरा कर देगी |
6. क्या संतुष्टि के लिए अभ्यर्थी उत्तर-पुस्तिका देख सकतें हैं ?
उत्तर :- नहीं , उत्तर-पुस्तिका आपको या किसी अन्य को किसी भी प्रस्थिति में नहीं दिखाई जाएगी |
7. क्या पुन : परीक्षण के दौरान अंक घाट या बढ़ सकती है ?
उत्तर :- जी हाँ , पुन : परीक्षण एवं पुन : मूल्यांकन के बाद संशोधित अंक ही मान्य होगा |
अधिक जानकारी के लिए आप अध्ययन केंद्र के समन्वयक या क्षेत्रीय कार्यालय में जाकर Re Evaluation का सलूशन निकाल सकतें हैं |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top