NASA International Space Station क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में |

Last updated on December 13th, 2023 at 08:13 pm

NASA International Space Station क्या है? इस पोस्ट में इंटरनेशनल स्पेस एजेंसी के बारे में बताया गया है | अगर आप नासा के बारे में जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़िए |

NASA International Space Station

NASA International Space Station क्या है?

अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station, या ISS) एक मानव अंतरिक्ष यान है जो केरोसेन युद्धांत के विकास के बाद 1998 में नासा द्वारा प्रारंभ किया गया था। इसे नासा (NASA) के साथी अंतरिक्ष संचालन परिषद (International Partnerships for Space Station Utilization, या ISS Partners) के सहयोग से एकत्रित किया जाता है, जिसमें रूसी अंतरिक्ष एजेंसी (Roscosmos), यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (European Space Agency, या ESA), जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी (Japan Aerospace Exploration Agency, या JAXA) और कनाडा अंतरिक्ष एजेंसी (Canadian Space Agency, या CSA) शामिल हैं।

यह एक विशाल अंतरिक्ष संरचना है जो धरती के ऊपर जगह स्थानित है और आकार में बड़ी तथा अविशाल है। ISS का निर्माण मूल रूप से विभिन्न क्षेत्रों में वैज्ञानिक अनुसंधान करने, खगोल विज्ञान और अंतरिक्ष जीवन प्रशिक्षण के लिए किया गया था। यह आंतरिक यातायात का मुख्य केंद्र है, जिससे अंतरिक्ष यान और उपग्रह अंतरिक्ष यात्रा की तैयारियों के लिए मानव और सामग्री का लॉन्च और लैंडिंग होती है।

ISS की अंतरिक्ष यात्रा का विशेषता यह है कि यह अंतरराष्ट्रीय सहयोग के एक अद्भुत उदाहरण के रूप में देखा जा सकता है, जिसमें विभिन्न देशों ने मिलकर इसे निर्माण और संचालन करने के लिए अपने धार्मिक तथा वैज्ञानिक संस्कृति को सम्मिलित किया है। ISS पर अंतरिक्ष में रहने वाले अनुसंधानकर्ता वैज्ञानिक प्रयोग और जीवनु की अध्ययन के लिए लंबे समय तक अंतरिक्ष में रहते हैं और विभिन्न ध्येयों के लिए उपग्रह और नक्षत्रों की अध्ययन करते हैं।

ISS विश्व में अंतरिक्ष अनुसंधान की उच्चतम विश्वस्तरीय वातावरणों में से एक है और यह वैज्ञानिक समृद्धि, तकनीकी अग्रणीता और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का प्रतीक है।

Space Agency का निर्माण कब हुई?

स्पेस एजेंसी (Space Agency) का निर्माण विभिन्न देशों में विभिन्न समय पर हुआ है, और इसका निर्माण देश के विज्ञान और अंतरिक्ष के क्षेत्र में रुचि और प्रतिबद्धता पर निर्भर करता है। इसलिए, विभिन्न देशों के स्पेस एजेंसियों के निर्माण के तारीख समान नहीं होंगे।

नीचे कुछ महत्वपूर्ण देशों के स्पेस एजेंसियों के निर्माण की तारीखें दी गई हैं |

  • नासा (NASA) – संयुक्त राज्य अमेरिका का स्पेस एजेंसी NASA का निर्माण 29 जुलाई 1958 को हुआ था।
  • रूसी अंतरिक्ष एजेंसी (Roscosmos) – सोवियत संघ का अंतरिक्ष एजेंसी Roscosmos का प्रथम नाम “गोस्पलन” था, जिसका निर्माण 25 मार्च 1965 को हुआ था। बाद में, सोवियत संघ के ढांचे में Roscosmos का नाम स्थानांतरित किया गया था।
  • यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (European Space Agency, ESA) – ESA का निर्माण 30 मई 1975 को हुआ था।
  • जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी (Japan Aerospace Exploration Agency, JAXA) – JAXA का निर्माण 1 अक्टूबर 2003 को हुआ था, जब यापान के विभिन्न स्पेस एजेंसियों को एक साझी एजेंसी बनाया गया था।
  • कनाडा अंतरिक्ष एजेंसी (Canadian Space Agency, CSA) – CSA का निर्माण 1 दिसम्बर 1989 को हुआ था।

यह भी पढ़ें

CSA क्या है ?

CSA (Canadian Space Agency) एक स्वतंत्र अंतरिक्ष एजेंसी है जो कनाडा के संचालन के तहत अंतरिक्ष अनुसंधान और उपग्रह गतिविधियों को प्रबंधित करती है। यह कनाडा सरकार के विज्ञान और अंतरिक्ष मंत्रालय के अंतर्गत स्थापित किया गया है। CSA का मुख्य कार्यक्षेत्र अंतरिक्ष विज्ञान, उपग्रह अनुसंधान, उपग्रह विकास, अंतरिक्ष मिशन के लिए औद्योगिक सहयोग, उपग्रह यानों के विकास, अंतरिक्ष अनुसंधान के लिए उपकरणों का विकास और अंतरिक्ष से सम्बंधित विभिन्न अनुसंधान के समर्थन में है।

CSA का मुख्य कार्यक्षेत्र निम्नलिखित है |

1. अंतरिक्ष विज्ञान और अनुसंधान: CSA अंतरिक्ष विज्ञान और अनुसंधान के क्षेत्र में विभिन्न अनुसंधान कार्यक्रमों का समर्थन करता है और अंतरिक्ष जीवन, सूर्य विज्ञान, ग्रेविटी, अंतरिक्ष शिक्षा और अन्वेषणीय अंतरिक्ष मिशनों में शामिल होता है।

2. उपग्रह और उपग्रह विकास: CSA उपग्रहों के विकास और अनुसंधान में संलग्न होता है, जो अंतरिक्ष मिशनों, अंतरिक्ष ज्ञान का निगमन और उपग्रह डिजाइन में उपयोग होते हैं।

3. उपग्रहों का लॉन्च और समर्थन: CSA उपग्रहों के लॉन्च, उपकरण और अंतरिक्ष उपग्रह से संबंधित उपयोगी जानकारी और तकनीकी समर्थन प्रदान करता है।

4. अंतरिक्ष मिशन और उपकरणों का विकास: CSA अंतरिक्ष मिशनों के लिए उपकरणों का विकास करता है और संचालन के लिए तकनीकी समर्थन प्रदान करता है।

CSA और nasa में अंतर

CSA (Canadian Space Agency) और NASA (National Aeronautics and Space Administration) दोनों ही महत्वपूर्ण अंतरिक्ष एजेंसियां हैं लेकिन इन दोनों में कुछ मुख्य अंतर हैं |

NASA एक बहुत बड़ी और व्यापक अंतरिक्ष एजेंसी है जो मूल रूप से अंतरिक्ष यातायात, ग्रह अनुसंधान, खगोल विज्ञान, और मानव अंतरिक्ष यात्रा के लिए जाना जाता है। CSA, उपग्रह और अंतरिक्ष सूचना तकनीकी, अंतरिक्ष जीवन विज्ञान, और अंतरिक्ष विज्ञान में अधिक ध्यान देता है। यह उपग्रह विकास, अंतरिक्ष विज्ञान के प्रयोग, और अंतरिक्ष में कनाडा के सामर्थ्य का विकास करने पर केंद्रित है।

NASA बजट के मामूले से बहुत बड़ी अंतरिक्ष एजेंसी है। इसका आर्थिक अनुमान अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर उपलब्ध धन से काफी अधिक है। विरोध में, CSA का आर्थिक अनुमान निश्चित सीमित होता है और यह नासा के आर्थिक अनुमान से बहुत कम है।

नासा विश्व में सबसे अधिक अंतर्राष्ट्रीय सहयोग वाली अंतरिक्ष एजेंसी मानी जाती है। यह अन्य देशों के साथ अंतरिक्ष मिशनों, मूलभूत अनुसंधान और विज्ञान के क्षेत्र में सहयोग करती है। CSA भी अंतर्राष्ट्रीय सहयोग करती है, लेकिन इसका व्यापक अंतर्राष्ट्रीय सहयोग नासा के मुकाबले कम है।

नासा ने मानव अंतरिक्ष यात्रा के कई महत्वपूर्ण मिशन चलाए हैं जैसे की अपोलो मिशन और अंतरिक्ष यातायात की विभिन्न प्रकार के विकास। CSA मुख्य रूप से अंतरिक्ष यातायात, उपग्रहों के विकास, और अंतरिक्ष में विज्ञान मिशनों में शामिल होती है।

इन सभी अंतरों के बावजूद, CSA और NASA दोनों एक दूसरे के साथ सहयोग करते हैं और विज्ञान, अंतरिक्ष अनुसंधान, और मानव अंतरिक्ष यात्रा के क्षेत्र में साझा ज्ञान और तकनीकी समर्थन देते हैं।

nasa फुल फॉर्म क्या है?

NASA का पूरा नाम “National Aeronautics and Space Administration” है।

nasa का निर्माण कैसे हुआ?

NASA का निर्माण 29 जुलाई 1958 को हुआ था। इसका मुख्य उद्देश्य संयुक्त राज्य अमेरिका के अंतरिक्ष और वायुयान के क्षेत्र में प्रोत्साहित करना था। यह अमेरिकी सरकार के तहत बनाया गया एक स्वतंत्र अंतरिक्ष एजेंसी है। नासा के संस्थापक नेशनल एडवायजरी कमेटी (National Advisory Committee for Aeronautics, NACA) था, जिसे अंतरिक्ष विज्ञान और उपग्रह के क्षेत्र में संशोधन का संबंधी अनुसंधान के लिए विख्यात था।

NASA का निर्माण करने के पीछे कुछ प्रमुख कारण थे |

संयुक्त राज्य अमेरिका ने सामान्य विज्ञान और उपग्रह तकनीक में विशेषता प्राप्त करने में विजयी होने के लिए अन्तरिक्ष अनुसंधान को प्रोत्साहित करने का निर्णय लिया।

संयुक्त राज्य अमेरिका ने सोवियत संघ के साथ चल रहे “स्पेस रेस” में पीछे रहते हुए उसे शून्य से संवाद स्थल तक पहुंचाने के लिए एक अंतरिक्ष एजेंसी की जरूरत समझी।

संयुक्त राज्य अमेरिका ने अंतरिक्ष क्षेत्र में नेशनल प्राथमिकताएं स्थापित करने का फैसला किया, जिसमें उसके इंजीनियर, वैज्ञानिक, और विज्ञान समुदाय को विकसित करने के लिए एक संबोधन एजेंसी की जरूरत थी।

संयुक्त राज्य अमेरिका ने ध्यान देते हुए विचार किया कि अंतरिक्ष में मानव को सुपरवायूम में जाने की संभावना हो सकती है और उसे उसे इस धरोहर को अध्ययन करने के लिए एक अलग अंतरिक्ष एजेंसी की आवश्यकता महसूस की।

इस तरह, नासा को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसियों को एकत्रित करने के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान और उपग्रह से संबंधित सभी कार्यक्रमों का संचालन करने के लिए बनाया गया था।

यह भी पढ़ें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Updates to keyboard shortcuts … On Thursday 1 August, 2024, Drive keyboard shortcuts will be updated to give you first-letter navigation.Learn more